Take a fresh look at your lifestyle.

Ayatul Kursi Hindi Mai : अयातुल कुर्सी हिंदी माई

Ayatul Kursi Hindi Mai : अयातुल कुर्सी हिंदी माई अल्लाह कोई भगवान नहीं बल्कि वह है
वह हमेशा जीवित रहता है और शेष जीवित रहता है
नींद से उसके पास मत आना
जो कुछ असमनोन में है और जो कुछ भूमि में है वह सब एक ही है
उसकी सिफारिश जो उसकी अनुमति के बिना है या
कि उसकी प्रजा वही है जो मखलूक़ात के सामने है और जो उनसे गायब है,
ग़ुलाम अपना ज़रा सा भी ज्ञान नहीं बता सकते सिवाय उन चीज़ों के, जो अल्लाह ख़ुद देना चाहता है
, उसकी (सरकार) का आसन भूमि को घेरता है और असमान
भूमि आकाश की सुरक्षा नहीं है
उस पर बुरा, वह बहुत मजबूत और अथाह है.

Ayatul Kursi in Hindi Mai (आयतुल कुर्सी हिंदी में)

 
बिस्मिल्लाहिर रहमानिर रहीम
अल्लाह के नाम से शुरू जो बड़ा मेहरबान रहम बाला है  
1. अल्लाहु ला इलाहा इल्लाहू
अल्लाह जिसके सिवा कोई माबूद नहीं
2. अल हय्युल क़य्यूम
वही हमेशा जिंदा और बाकी रहने वाला है
 
3. ला तअ’खुज़ुहू सिनतुव वला नौम
न उसको ऊंघ आती है न नींद
4. लहू मा फिस सामावाति वमा फ़िल अर्ज़
जो कुछ आसमानों में है और जो कुछ ज़मीन में है सब उसी का है
5. मन ज़ल लज़ी यश फ़ऊ इन्दहू इल्ला बि इजनिह
कौन है जो बगैर उसकी इजाज़त के उसकी सिफारिश कर सके
 
6. यअलमु मा बैना अयदी हिम वमा खल्फहुम
वो उसे भी जनता है जो मख्लूकात के सामने है और उसे भी जो उन से ओझल है
7. वला युहीतूना बिशय इम मिन इल्मिही इल्ला बिमा शा..अ
बन्दे उसके इल्म का ज़रा भी इहाता नहीं कर सकते सिवाए उन बातों के इल्म के जो खुद अल्लाह देना चाहे
8. वसिअ कुरसिय्यु हुस समावति वल अर्ज़
उसकी ( हुकूमत ) की कुर्सी ज़मीन और असमान को घेरे हुए है
9. वला यऊ दुहू हिफ्ज़ुहुमा
ज़मीनों आसमान की हिफाज़त उसपर दुशवार नहीं
10. वहुवल अलिय्युल अज़ीम
वह बहुत बलंद और अज़ीम ज़ात है

Ayatul Kursi Hindi Mai : अयातुल कुर्सी हिंदी माई

Ayatul Kursi Hindi Mai : अयातुल कुर्सी हिंदी माई

Benefits of Ayatul Kursi

Ayatul Kursi is the most wonderful verse of the Qur’an in the hadith of Rasool S.A. Has made it safe from all imports.
Hazrat Abu Huraira R.A. Says that Rasool S.A. Said: There is a verse in Surah Bakra, which is the head of all the verses of the Qur’an, where the devil leaves the house where it is recited.

Ayatul Kursi English Meaning

Allah is no god but that
he is always alive and the rest of living has
not come to him drowsily not sleep
in whatever in skys and that is in the land all the same of
his recommendation who is without his permission or
that her People are those who are in front of the Makhluqat and even those who are missing from them, the
slaves can not tell the slightest of their knowledge except the knowledge of those things which Allah Himself wants to give
, the seat of his (government) surrounds the land and the uneven
lands. The protection of the sky is not
bad on him, he is very strong and immeasurable

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.